Connect with us

Hi, what are you looking for?

शिक्षा/रोजगार

Civil Services Extra Attempt: UPSC सिविल सर्विस कैंडीडेट्स को अंतिम मौका देने के लिए सरकार हुई राजी

UPSC सिविल सर्विस की तैयारी करने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है कि केंद्र सरकार ने ऐसे कैंडीडेट्स को एक और अतिरिक्त मौका देने का फैसला किया है जिनका साल 2020 में यूपीएससी सिविल सर्विसेज परीक्षा में अंतिम प्रयास था। बता दे ये लोग कोरोना वायरस महामारी के कारण परीक्षा नहीं दे पाए थे। इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई थी। जिसमें ऐसे प्रतिभागियों ने भी एक और मौका दिए जाने की मांग की थी जिनका पिछले साल लास्ट मौका था और वो उम्र की सीमा के चलते वे परीक्षा में शामिल नहीं हो सकते थे।

आपको बता दें कि 4 अक्टूबर को यूपीएससी सिविल सर्विसेज प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन किया था। हालांकि परीक्षा पहले तो मई में आयोजित की जाने वाली थी लेकिन कोरोना महामारी के चलते इसे तब टाल दिया गया था। सितंबर 2020 में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और यूपीएससी को निर्देश दिया था कि ऐसे छात्रों को उम्र की सीमा में छूट देते हुए एक और मौका दिया जाए।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद भारत सरकार के कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग ने 26 अक्टूबर को कोर्ट को बताया था कि छात्रों को अतिरिक्त मौका दिए जाने पर विचार किया जा रहा है। जिसके बाद 22 जनवरी को केंद्र सरकार ने ऐसे छात्रों को मौका दिए जाने से मना कर दिया था। सरकार का तर्क था कि इससे पूरी कार्यप्रणाली पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा और समान अवसर दिए जाने के नियमों का भी उल्लंघन होगा।

हालांकि अब सरकार ने अपना फैसला बदल लिया है। बता दे कि सिविल सर्विस मुख्य परीक्षा 2020 खत्म हो चुकी है। परीक्षा 8 जनवरी से 17 जनवरी के बीच कराई गई थी। प्रारंभिक परीक्षा में पास होने वाले 10,000 प्रतिभागियों को इसके मुख्य परीक्षा के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया है। उम्मीद की जा रही है कि सिविल सर्विस 2021 का नोटिफिकेशन 10 फरवरी को जारी कर दिया जाएगा।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: