Connect with us

Hi, what are you looking for?

क्राइम

अंधविश्वास: बारिश के देवता को खुश करने के लिए नाबालिग बच्चियों को निर्वस्त्र घुमाया, 8 पर केस दर्ज

दरअसल वीडियो के अनुसार, इस गांव में कुछ लड़कियां जुलूस की शक्ल में एक साथ जा रही हैं। उनके पीछे एक समूह में कुछ महिलाएं गीत गाती हुई चल रही हैं। उस नाबालिग़ लड़कियों में कुछ की उम्र महज़ पांच साल के आसपास है। ये जुलूस गांव के हर घर में रुकता है और ये बच्चे उनसे अनाज इकट्ठा करते हैं। इस अनाज को बाद में स्थानीय मंदिर के भंडारे के लिए दे दिया जाता है। ऐसा मानना है कि ऐसा करने से बारिश होगी.”

खबर शेयर करें

Manoj kumar

गांव में निर्वस्त्र बच्चियों के पीछे गीत गाते हुए जाती महिलाएँ फोटो सोशल मीडिया

MP: मध्य प्रदेश के दमोह जिले के एक गांव में बारिश के देवता को खुश करने के लिए नाबालिग लड़कियों को निर्वस्त्र घुमाये जाने का मामला तूल पकड़ गया है। मानवता को शर्मसार करने वाली इस घटना के सामने आने के बाद राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने दमोह जिला प्रशासन से दस दिनों के अंदर मामले में रिपोर्ट मांगी है। पुलिस ने इस मामले ने 8 लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

दमोह जिले के पुलिस अधिकारी ने बताया कि दमोह जिला मुख्यालय से लगभग 50 किलोमीटर दूर जबेरा थाना क्षेत्र के बनिया गांव और उसके आसपास के इलाके सूखे जैसी स्थिति का सामना कर रहे हैं। स्थानीय लोगों का मानना है कि नाबालिग लड़कियों को निर्वस्त्र घुमाने का अनुष्ठान करने से बारिश के देवता प्रसन्न होकर इलाके में अच्छी बारिश करेंगे।

इस अंधविश्वास के चलते हुए बच्चीयों की गरिमा को तार तार करते हुए रविवार को कई नाबालिग लड़कियों को निर्वस्त्र गांव में घुमाया गया। जिसका किसी ने वीडियो भी बनाया। मामले ने तूल पकड़ा तो घटना का वीडियो बनाने के आरोप में पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। बच्चियों को निर्वस्त्र घुमाने के मामले में 6 महिलाएं भी शामिल थी।

दमोह ज़िलाधिकारी एस कृष्ण चैतन्य ने बताया कि लड़कियों के अभिभावकों ने इस रिवाज में उनके हिस्सा लेने पर सहमति दी थी और ख़ुद भी इस जुलूस में हिस्सा लिया था। उन्होंने बताया, “ऐसे मामलों में प्रशासन केवल यही कर सकता है कि वो गांव वालों को ऐसे अंधविश्वासों की निरर्थकता को लेकर जागरूक करे कि इस तरह के रीति-रिवाजों का कोई वांछित नतीजा नहीं निकलता है.”

दमोह एसपी डीआर तेनिवार ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो अधिनियम तथा भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं और किशोर न्याय अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: