Connect with us

Hi, what are you looking for?

क्राइम

शक्ति मिल गैंगरेप केस: बॉम्बे HC का फैसला, उम्रकैद में बदली दोषियों की फांसी की सजा

शक्ति मिल गैंग रेप के 2 मामले सामने आए थे। एक फोटोग्राफर पत्रकार सामूहिक बलात्कार का मामला और एक टेलीफोन ऑपरेटर सामूहिक बलात्कार का मामला। फोटो जर्नलिस्ट मामले में 5 दोषी हैं जिनमें 1 नाबालिग है। टेलीफोन ऑपरेटर मामले में भी 5 दोषी हैं, जिनमें 1 नाबालिग है। दोनों ही मामलों में तीनों दोषी एक ही हैं।

खबर शेयर करें
Bombay High Court

मुंबई: बॉम्बे हाईकोर्ट(Bombay High Court) ने 2013 के शक्ति मिल सामूहिक बलात्कार(Shakti Mills gang rape case) मामले में आज (गुरुवार) अपना अंतिम फैसला सुनाया। बॉम्बे हाईकोर्ट ने तीनों दोषियों की मौत की सजा को उम्रकैद में बदल दिया। मृत्युदंड की मंजूरी के लिए राज्य सरकार की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। बता दें कि 4 अप्रैल 2014 को मुंबई सेशंस कोर्ट(Mumbai Sessions Court) ने उन्हें मौत की सजा सुनाई थी। तीन दोषियों विजय जाधव, कासिम बंगाली और सलीम अंसारी(Vijay Jadhav, Kasim Bengali and Salim Ansari) को मौत की सजा सुनाई गई। तीनों दोषियों को आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश किया गया। जस्टिस एसएस जाधव और जस्टिस पृथ्वीराज चौहान(Justice SS Jadhav and Justice Prithviraj Chauhan) ने मामले में फैसला सुनाया।

यह भी पढें-UP: सिरफिरे युवक ने प्रेम प्रसंग में युवती और उसके माता-पिता व बहन को तलवार से काटा, तीन की मौत

शक्ति मिल सामूहिक दुष्कर्म के दो मामले हैं
आपको बता दें कि शक्ति मिल गैंग रेप के 2 मामले सामने आए थे। एक फोटोग्राफर पत्रकार सामूहिक बलात्कार का मामला और एक टेलीफोन ऑपरेटर सामूहिक बलात्कार का मामला। फोटो जर्नलिस्ट मामले में 5 दोषी हैं जिनमें 1 नाबालिग है। टेलीफोन ऑपरेटर मामले में भी 5 दोषी हैं, जिनमें 1 नाबालिग है। दोनों ही मामलों में तीनों दोषी एक ही हैं।

फोटो पत्रकार मामले का दोषी

  1. सिराज रहमान खान (आजीवन कारावास)
  2. विजय मोहन जाधव (गंगा)
  3. मोहम्मद सलीम अंसारी (गंगा)
  4. मोहम्मद कासिम हाफिज शेख उर्फ ​​कासिम बंगाली (गंगा)
  5. चांद बाबू (अपराध के समय नाबालिग था)

टेलीफोन ऑपरेटर मामले का दोषी

  1. मोहम्मद अशफाक शेख (आजीवन कारावास)
  2. विजय मोहन जाधव (गंगा)
  3. मोहम्मद सलीम अंसारी (गंगा)
  4. मोहम्मद कासिम हाफिज शेख उर्फ ​​कासिम बंगाली (गंगा)
  5. जाधव जेजे (अपराध के समय नाबालिग था)

बता दें कि गैंगरेप मामले में मोहम्मद कासिम हाफिज शेख उर्फ ​​कासिम बंगाली, मोहम्मद सलीम अंसारी और विजय मोहन जाधव दोनों दोषी थे। तीनों को मौत की सजा सुनाई गई थी। बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश के बाद अब इन तीनों की सजा को उम्रकैद में बदल दिया गया है.

यह भी पढें-अफगानिस्तान में हालात हुए बदतर: अपनी बच्चियों को बेचने को मजबूर हुए लोग

शक्ति मिल गैंगरेप केस की टाइमलाइन
22 अगस्त 2013 को महालक्ष्मी स्थित शक्ति मिल परिसर में शाम करीब 6.45 बजे एक पत्रिका के लिए काम करने वाली महिला फोटो जर्नलिस्ट के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया. फिर 23 अगस्त 2013 को मामले में पहली गिरफ्तारी हुई। नाबालिग आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। 24 अगस्त 2013 को दूसरे आरोपी विजय जाधव को गिरफ्तार किया गया था। कुछ घंटे बाद उसी दिन तीसरे आरोपी सिराज रहमान उर्फ ​​सिरजू को भी गिरफ्तार कर लिया गया। फिर 25 अगस्त 2013 को चौथे आरोपी कासिम बंगाली को गिरफ्तार किया गया। पांचवें और मुख्य साजिशकर्ता मोहम्मद सलीम अंसारी को 25 अगस्त 2013 को गिरफ्तार किया गया था।

इसके बाद 26 अगस्त 2013 को पीड़िता फोटो जर्नलिस्ट का बयान दर्ज किया गया. पीड़िता को 27 अगस्त 2013 को अस्पताल से छुट्टी मिल गई. 3 सितंबर 2013 को एक और पीड़िता सामने आई. 19 वर्षीय टेलीफोन ऑपरेटर ने पुलिस को बताया कि 31 जुलाई को उसके साथ भी पांच लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था, जिसमें तीन पहले से ही गिरफ्तार हैं।

फिर 4 सितंबर 2013 को पीड़ित लड़की ने पहचान परेड में आरोपी की पहचान की. इसके बाद 19 सितंबर 2013 को मुंबई क्राइम ब्रांच ने करीब 600 पेज का चार्जशीट दाखिल किया. सुनवाई 14 अक्टूबर 2013 को शुरू हुई। 17 अक्टूबर 2013 को पीड़िता ने कोर्ट में आरोपी की पहचान की। 13 जनवरी 2014 को पीड़िता के सहयोगी और चश्मदीद ने भी आरोपी की पहचान की। 20 मार्च 2014 को मुंबई सत्र न्यायालय ने चारों आरोपियों को दोषी पाया। 4 अप्रैल 2014 को, तीन दोहराने वाले अपराधियों को फांसी दी गई, जबकि बाकी आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई।

यह भी पढें-15 सरकारी अधिकारियों के घर छापेमारी, मिली इतनी संपत्ति; फटी की फटी रह गईं ACB ऑफिसर्स की आंखें

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: