Meerut: मीट व्यापारियों ने इंस्पेक्टर पर लगाया रिश्वत का आरोप, एसएसपी से की शिकायत

एसएसपी ऑफिस पहुंचे मीट व्यापारी

मेरठ। मेरठ जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां सिवालखास के जानी थाना क्षेत्र में मीट की दुकान करने वाले व्यापारियों ने जानी थानेदार पर घूस मांगने का आरोप लगाते हुए SSP से शिकायत की है।

आपको बता दें मीट व्यापारियों का आरोप है कि थानेदार आए-दिन उनके साथ अभद्र व्यवहार करते हैं। शिकायत मिलने के बाद एसएसपी ने मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। मिली जानकारी के अनुसार, सिवालखास में मीट की दुकान का संचालन करने वाले मोहम्मद यूनुस, मोहम्मद यासीन, मोहम्मद अनस, मोहम्मद ताहिर और मोहम्मद राहत अली सहित लगभग दर्जनभर व्यापारी मंगलवार को एसएसपी ऑफिस पहुंचे।

जानकारी देते हुए व्यापारियों ने बताया कि वह पिछले काफी समय से थाना पुलिस और तमाम विभागों से एनओसी लेकर क्षेत्र में मीट की दुकानों का संचालन कर रहे हैं। थानेदार ने व्यापारियों का उत्पीड़न कियाइस दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि वर्तमान थानेदार पिछले काफी समय से उनसे महीना मांग रहे हैं।

व्यापारियों ने महीना देने से इनकार किया तो थानेदार ने व्यापारियों का उत्पीड़न शुरू कर दिया और आए-दिन उनकी दुकानें बंद करा देते हैं। व्यापारियों ने इस मामले में एसएसपी से कार्रवाई की मांग की। वहीं, एसएसपी ने पूरे प्रकरण में जांच के आदेश दिए हैं।


जानी थाना प्रभारी राजेश कांबोज ने अपने ऊपर लगाए गए सभी आरोपों को निराधार बताया और कहा कि मीट की एनओसी थाने द्वारा नहीं दी गई है क्षेत्र की चौकी से एनओसी दी गई है। जो कि सही नहीं है और उच्च अधिकारियों को लाइसेंस निरस्त करने के लिए भेज दिए हैं। वही चौकी प्रभारी विमल सैनी ने भी एनओसी जांच होने की बात थी।