Connect with us

Hi, what are you looking for?

क्राइम

मेरठ: एड्स संक्रमित सिपाही ने 200 लोगों के साथ किया कुकर्म‚ अब युवक को कर रहा है ब्लैकमेल

मैं एचआईवी संक्रमित हूं और मुझे यूपी पुलिस के एक कॉन्स्टेबल ने यह बीमारी दी है। उस कॉन्स्टेबल ने 7 फरवरी 2017 को मुझसे लिफ्ट मांगी थी और फिर मुझे नशीला पदार्थ सुंघाकर मेरे साथ कुकर्म किया। यूपी पुलिस का यह कॉन्स्टेबल अब तक करीब 200 युवकों के साथ कुकर्म कर चुका है और उन्हें यह बीमारी बांट चुका है। इतना ही नहीं यह कॉन्स्टेबल कुकर्म करते समय अश्लील वीडियो बना लेता है और फिर उसे वायरल करने की धमकी देकर पैसे एठता है और अन्य लोगों में एचआईवी फैलाने के लिए मजबूर करता है।

यूपी पुलिस के कॉन्स्टेबल पर ये सनसनीखेज आरोप लगाए हैं मेरठ के रहने वाले एक युवक ने। युवक का आरोप है कि कॉन्स्टेबल बुलंदशहर का रहने वाला है और 2017 में चुनाव ड्यूटी के दौरान मेरठ आया था। युवक ने बताया कि कॉन्स्टेबल ने उससे लिफ्ट मांगी थी और रास्ते में उसे नशीला पदार्थ सुंघा दिया। युवक ने आरोप लगाया है कि जब उसे होश आया तो पता चला कि वह गंगानगर क्षेत्र में था और आरोपी कॉन्स्टेबल ने उसके साथ कुकर्म किया था। हमारे सहयोगी लोकेश टंडन ने इस पीड़ित युवक से एक्सक्लूसिव बातचीत की-

जब मुझे होश आया तो कॉन्स्टेबल ने मुझे बताया कि उसे एचआईवी है और उसने अब उसे भी यह बीमारी दे दी है। इतना ही नहीं कॉन्स्टेबल ने मेरी अश्लील वीडियो भी बना ली थी, जिसे वायरल करने की धमकी देकर वह मुझे अन्य युवकों के साथ शारीरिक संबंध बनाने और उनसे पैसे एठने के लिए मजबूर करने लगा।जैसा पीड़ित युवक ने बताया

युवक ने बताया कि उसके पिता भी पुलिस विभाग में थे और वर्ष 2004 में एक हादसे में उनकी मृत्यु हो गई थी। पीड़ित युवक ने बताया कि आरोपी युवक ने अपने कई साथियों को भी उसका नंबर और अश्लील फोटो बांट दिया। जिसके बाद से उसे अलग-अलग नंबर से कॉल और मैसेज आने लगे। ये लोग भी उसे अश्लील तस्वीरे भेजकर गलत काम करने के लिए ब्लैकमेल करने लगे।

आरोपी कॉन्स्टेबल एटा में तैनात है। मैंने इस बारे में कई बार गंगानगर और एटा में शिकायत की, लेकिन गंगानगर पुलिस इसे एटा का मामला बता देती तो एटा पुलिस इसे मेरठ का मामला बताकर भगा देती। मैंने मेरठ एसएसपी से इसकी शिकायत की तो गंगानगर पुलिस ने मामले की जांच की, लेकिन इसके बाद पुलिस ने कर्ण पर तो कोई कार्रवाई नहीं की, उल्टा मुझे ही गलत ठहरा दिया। जैसा पीड़ित युवक ने बताया

पीड़ित ने बताया कि आरोपी कॉन्स्टेबल ने करीब 200 लोगों के साथ ऐसी हरकत की है और उन्हें यह लाइलाज बीमारी दी है। आरोपी अपने अश्लील फोटो भी भेजता है। कॉन्स्टेबल के दोस्त जिनमें शिवा, भूपेंद्र, रवि, अजय, रमजान और अन्य कई लोग हैं जिन्होंने यह गिरोह बना रखा है। ये भी लोग कम उम्र के लड़कों को अपना शिकार बनाते हैं और उनका यौन शोषण करते हैं फिर उन्हें डरा धमकार अपने साथ शामिल होने या फिर पैसे देने के लिए ब्लैकमेल करते हैं।

आरोपी मुझे गंदी तस्वीरे भेजता है और अपने साथ रहने के लिए मजबूर करता है। मैं शिकायत करने की बात कहता हूं तो मुझे और मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी जाती है। आरोपी कॉन्स्टेबल का छोटा भाई खुद को पुलिस अधिकारी बताकर मुझे धमकी देता है। मैं बहुत परेशान हो गया हूं। कॉन्स्टेबल लगातार मुझपर अन्य युवकों से संबंध बनाकर उन्हें एचआईवी संक्रमित बनाने का दबाव बना रहा है। गंगानगर थाने के पुलिसकर्मी प्रेम प्रकाश कहते हैं कि जो कुछ हुआ तुम्हारी मर्जी से हुआ है और वो मुझे ही गलत बताते हैं। जबकि आरोपी सिपाही कई युवकों के साथ ऐसा कर चुका है।जैसा पीड़ित ने बताया

पीड़ित युवक ने बताया कि वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर इस पूरे मामले की शिकायत करेगा। युवक ने बताया कि उसके घर में बूढ़ी मां, भाई और उनका परिवार रहता है। ऐसे में उसे घर पर रहते हुए डर लगता है। युवक ने बताया कि उसके परिवार की जान को खतरा है, लेकिन पुलिस कार्रवाई नहीं करती। आरोप है कि 2020 दीपावली से पहले युवक ने पुलिस को सभी रिकॉर्डिंग, फोटो और नंबर पुलिस को दिए थे, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। पुलिस से पूछा जाता है तो बताते हैं कि जांच चल रही है। पुलिस की लापरवाही के कारण आरोपी अभी भी मुझे परेशान करते हैं। इसके ग्रुप में एक सरकारी शिक्षक और एक और पुलिसकर्मी है।

यह आरोपी कॉन्स्टेबल कुंभ ड्यूटी में गया था, वहां इसने अलीगढ़ के एक 17 साल के लड़के के साथ दुष्कर्म किया था। उस लड़के को इस सिपाही ने मेरा नंबर दिया था, जिसके बाद उस लड़के ने मुझे फोन कर रोते-रोते सारी बात बताई। लड़के ने रोते-रोते मुझसे बचाने की गुहार लगाई थी। प्रेमप्रकाश एसआई ने इस सिपाही से 50 हजार रुपये लिए हैं, जो अब यह आरोपी मुझसे मांग रहा है। पुलिस ने अगर इस आरोपी और इसके साथियों पर कार्रवाई नहीं की तो ये कई लोगों को बर्बाद कर देगा।जैसा पीड़ित युवक ने बताया

पुलिस द्वारा मामले में कार्रवाई न होने पर युवक अब जनता दरबार में मुख्यमंत्री से शिकायत करने जा रहा है। युवक का कहना है कि वह आरोपी को सजा दिलवाकर ही मानेगा।

संपूर्ण खबर साभार‚ खबरीलाल.कॉम

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement