Connect with us

Hi, what are you looking for?

क्राइम

लखनऊ के छात्र ने लगाया मेरठ पुलिस पर डकैती का आरोप, कमीश्नर से की मुकदमा दर्ज करने की मांग

नीरज गोला

नोएडा/ मेरठ: नोएडा में प्रसपा नेता अमित जानी के आवास पर रहकर शिक्षा हासिल कर रहे छात्र ने मेरठ जिले के जानी थाना पुलिस पर डकैती जैसे गंभीर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज किए जाने की माँग की है। ग्रह मंत्रालय से लेकर थाना सेक्टर 20 नोएडा के थानाध्यक्ष को शिकायती पत्र देते हुए छात्र ने जानी प्रभारी निरीक्षक और अन्य को आरोपी बनाया है।
गंगोत्री एनक्लेव आवास विकास लखनऊ निवासी भारत सिंह पुत्र ठाकुर कामेश्वर सिंह नोएडा के सेक्टर 15 स्थित कोठी नंबर 3 में प्रसपा नेता अमित जानी के निवास पर रहता है। सोमवार को छात्र ने शिकायती पत्र देते हुए आरोप लगाया है कि दिनांक 25 दिसम्बर 2020 की रात 12 से एक बजे के बीच एक टाटा सूमो जिस पर पुलिस लिखा था, वह कोठी नंबर 3 के बाहर आकर रूकी। इसी दौरान उसमें सवार 7-8 पुलिस कर्मी उतरे और जोर जोर से दरवाजे को तोड़ने की कोशिश करते हुए पीटने लगे।

छात्र का आरोप है कि जब वह शोर सुनकर बाहर आया और कारण पूछा तो थाना प्रभारी निरीक्षक ने अपना परिचय गाली गलौज करते हुए दिया। छात्र ने बताया कि काफी जद्दोजहद के बाद जब गेट खोला तो जानी थानाध्यक्ष ऋषिपाल सिंह और उनके साथ आए पुलिस कर्मियों ने मुझे पीटना और घसीटना शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस की ताकत दिखाने की धमकी देते हुए थानाध्यक्ष जानी अन्य पुलिसकर्मियों सहित घर मे घुस गए और कमरों का सामान उलट पुलट करने लगे। छात्र ने आरोप लगाया है कि इस घटनाक्रम के दौरान जानी पुलिस ने तांडव मचाते हुए घर मे लगे सीसीटीवी कैमरे के डीवीआर को निकाल लिया।

शिकायती पत्र में पीड़ित द्वारा लगाए गए आरोपी के अनुसार थानाध्यक्ष ने छात्र की जेब से 19000 रुपये नकद छीन लिए , कमरे से 1 लाख रुपये का कैमरा उठा लिया और मेरे गले में पड़ी हुई सोने की चेन को तोड़ लिया। छात्र ने जानी थाना प्रभारी निरीक्षक एंव अन्य पुलिसकर्मियों पर डकैती डालने एंव जान से मारने की नीयत से मारपीट का मुकदमा दर्ज किए जाने की माँग की है। पीड़ित छात्र ने प्रधानमंत्री कार्यलय, ग्रह मंत्रालय, प्रदेश के मुख्यमंत्री सहित प्रदेश के डीजीपी, नोएडा के पुलिस कमिश्नर एंव नोएडा सेक्टर 20 के थानाध्यक्ष को शिकायती पत्र देते हुए जानी प्रभारी निरीक्षक एंव अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है।


ऋषिपाल सिंह प्रभारी निरीक्षक थाना जानी–” छात्र द्वारा लगाए गए तमाम आरोप निराधार है। हाल ही में दर्ज हुए मुकदमो से बौखलाकर अमित जानी द्वारा गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा है। जानी पुलिस किसी भी तरह की जाँच के लिए तैयार है।”

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: