गाजियाबाद: होश आया तो बिस्तर पर नग्न हालत में थी कवयित्री‚ दरोगा कर रहा था रेप

दरोगा ने किया रेप

Ghaziabad– उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जनपद (Ghaziabad district)  से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है।  यहां एक दरोगा पर नामचीन कवयित्री (renowned poetess) ने रेप का आरोप लगाया है।  आरोप है कि दरोगा ने लगभग 7 महीने तक उसके साथ रेप किया और गर्भवती (pregnant) होने पर उसका गर्भपात (abortion) भी करा दिया। शिकायत मिलने के बाद DCP CITY ने आरोपी दरोगा को सस्पेंड (Suspend)  करते हुए मुकदमा दर्ज (file a case) कराया है‚ और विभागीय कार्रवाई (departmental action) के लिए भी लिख दिया गया है।

हैरान करने वाला यह मामला गाजियाबाद के कवि नगर थाना क्षेत्र का है।  कवयित्री ने थाने में शिकायत देते हुए बताया कि अप्रैल 2022 में वह अपने घर जाने के लिए डासना बैरियर के पास खड़ी थी।  इस दौरान वर्दी पहने दरोगा अजय मिश्रा वहां पहुंचा और उसने उसके खड़े होने का कारण पूछा।  इस दौरान दोनों में बातचीत हुई तो दरोगा ने कवयित्री का नंबर ले लिया।

यह भी पढ़ें- मेरठ: ATM मशीन खराब करने के लिए रात में हेलमेंट पहनकर निकलता है यह शातिर

शिकायत के मुताबिक अजय मिश्रा ने कवयित्री से फोन पर बातचीत शुरू कर दी।  कभी-कभी दोनों एक दूसरे के घर आने जाने लगे।  पीड़िता का आरोप है कि एक दिन चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर दरोगा ने अपने फ्लैट में उसके साथ दुष्कर्म किया।  कवित्री ने बताया कि जब उसे होश आया तो वह नग्न हालत में बिस्तर पर पड़ी थी और दरोगा भी वहीं मौजूद था।  कवयित्री ने बताया कि जब उसने अपने साथ रेप का विरोध किया तो दरोगा ने उसे उसके अश्लील वीडियो दिखाएं और धमकी दी कि अगर किसी को बताया तो वीडियो वायरल कर देगा।

कवयित्री का आरोप है कि इसके बाद अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देते हुए अगले 7 महीने तक आरोपी दरोगा उसके साथ रेप करता रहा।  जब वह गर्भवती हो गई तो उसका गर्भपात भी कराया।  इस मामले में दरोगा अजय मिश्रा के खिलाफ कवि नगर थाने में दुष्कर्म‚ गर्भपात कराने और जान से मारने की धमकी देने सहित कई अन्य आरोपो में शिकायत दी गई है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

मामले में जानकारी देते हुए डीसीपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया कि दरोगा अजय मिश्रा डीसीपी ग्रामीण के यहां पीआरओ पद पर तैनात था, जिसे सस्पेंड कर दिया गया है। उसके खिलाफ विभागीय जांच शुरू कर दी है।