Connect with us

Hi, what are you looking for?

क्राइम

दिल्ली: शमशाम घाट मे 9 वर्षीय बच्ची के साथ गैंगरेप के बाद हत्या,पुजारी सहित 4 गिरफ्तार

लगभग डेढ़ माह पहले भी इस श्मशान घाट में दो बहनों के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था। जिसके बाद से ही यहां सुरक्षा को लेकर सवाल उठ रहे थे।

खबर शेयर करें

Author: कपिल कुमार

दिल्ली कैंट के पुराना नांगल राया स्थित श्मशान घाट में 9 वर्षीय बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने बच्ची की हत्या के बाद उसके शव का श्मशान घाट पर ही अंतिम संस्कार कर दिया। बिना माता-पिता की सहमति के अंतिम संस्कार करने पर परिजनों ने विरोध करते हुए सैकड़ो लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। इस मामले में पुजारी व तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

शमशान में लगे वाटर कूलर से ठंडा पानी लेने गयी थी बच्ची

पुलिस पूछताछ में बच्ची की मां ने बताया कि बच्ची श्मशान घाट में लगे वाटर कूलर से ठंडा पानी लेने की बात कहकर घर से रविवार शाम करीब साढ़े पांच बजे गई थी। जिसके बाद करीब 6.30 श्मशान घाट के पंड़ित राधेश्याम ने उसे श्मशान घाट पर बुलाया और बताया कि वाटर कूलर से करंट लगने से उनकी बच्ची की मौत हो गई है।

शमशान के बाहर भीड़ : सोशल मीडिया

पुजारी ने पोस्टमार्टम में अंगों को निकलने से डराया, नही देने दी पुलिस को सूचना

बच्ची की इस हालत को देखने के बाद उसकी मां ने पुलिस को फोन करने और बच्ची का पोस्टमार्टम कराने की कोशिश की, लेकिन पुजारी ने पोस्टमार्टम के दौरान डॉक्टरों द्वारा अंगों की चोरी होने की बात कहकर परिजनों को डरा दिया और बिना पोस्टमार्टम या पुलिस को सूचित किये बिना झटपट बच्ची का अंतिम संस्कार कर दिया। यह बात इलाके में फैल गई और सैकड़ो लोगों ने श्मशान घाट के बाहर हंगामा करना शुरू कर दिया। 

दुष्कर्म करने का आरोप लगाकर कई सौ लोगों ने किया हंगामा

जिसके बाद सैकड़ो की संख्या में लोगों ने श्मशान घाट के बाहर हंगामा करते हुए पंड़ित और उसके साथियों पर बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाया। लोगों का कहना था कि आरोपियों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर सबूतों को मिटाने के लिए उन्होंने शव का अंतिम संस्कार कर दिया। हंगामे की सूचना के बाद दिल्ली कैंट थाना पुलिस और जिला पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। और लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया। सोमवार को पूरे दिन मौके पर हंगामा चलता रहा। स्थानीय विधायक भी मौके पर पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की।

एससीएसटी आयोग के दखल के बाद हुआ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज

सूत्रो की माने तो मामले में लोगों के हंगामे के बाद दिल्ली महिला आयोग और एससीएसटी आयोग की टीम भी मौके पर पहुंची। और पुलिस कार्रवाई से असहमति जताते हुए मामले में सामूहिक दुष्कर्म, हत्या की धारा जोड़ने की मांग की। पुलिस ने पहले मामला गैर इरादतन हत्या की धाराओं में दर्ज किया गया था। जिसके बाद पुजारी सहित तीन अन्य लोगों के खिलाफ हत्या, सामूहिक दुष्कर्म, साक्ष्य को छुपाने, पॉक्सो, एसटीएससी एक्ट और 506 धाराओं में मामला दर्ज कर लिया।  

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: