Connect with us

Hi, what are you looking for?

क्राइम

Bihar: संबंध बनाने से किया इंकार तो सिरफिरे साधू ने कर डाली महिला की हत्या, गांव में दहशत

Bihar News: आरोपी साधू मोती लाल यादव पूरे दिन गन्ने के खेतों में छिपा रहता है लेकिन शाम होते ही वो गांव की तरफ आ जाता है. इस दौरान जो भी उसे दिखता है वो उससे चिल्ला-चिल्ला कर कहता है कि अभी उसे नौ और लोगों की हत्या करनी है. इसको लेकर ग्रामीणों में काफी दहशत है. वो लाठी, डंडे और भला लेकर रातजगा कर पहरा दे रहे हैं

खबर शेयर करें

बगहा. बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के बगहा (Bagaha) के लक्ष्मीपुर गांव में एक साधु का खौफ है. एक महिला की धारदार हथियार से गला काट कर हत्या (Murder) के बाद फरार हुआ आरोपी साधू मोती लाल यादव गांववालों के लिए मुसीबत बन गया है. इस सनकी साधू के दहशत से ग्रामीण रात में सो नहीं पा रहे हैं.

मोती लाल यादव पूरे दिन गन्ने के खेतों में छिपा रहता है लेकिन शाम होते ही वो गांव की तरफ आ जाता है. इस दौरान जो भी उसे दिखता है वो उससे चिल्ला-चिल्ला कर कहता है कि अभी उसे नौ और लोगों की हत्या करनी है. इसको लेकर ग्रामीणों में काफी दहशत है. वो लाठी, डंडे और भला लेकर रातजगा कर पहरा दे रहे हैं.

साधू मोती लाल यादव

हत्या के आरोपी साधू की दहशत इतनी है कि ग्रामीण शाम ढलने से पहले खेतों से गांव की तरफ आ जा रहे हैं. महिलाओं ने डर के मारे खेत की तरफ जाना बंद कर दिया है. ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी साधू मोती लाल यादव पहले भी कई वारदातों को अंजाम दे चुका है इसलिए लोगों को काफी भय हो गया है. वो पड़ोस के गांव के लोगों से लक्ष्मीपुर गांव में कई दफा संदेशा भी भिजवा चुका है.

महिला से यौन संबंध बनाने की इच्छा पूरी नहीं हुई तो बेटियों के सामने काट डाला

मिली जानकारी के मुताबिक मोती लाल यादव लक्ष्मीपुर गांव के ही निवासी बेचू यादव की पत्नी तारा देवी (40) से एकतरफा प्यार करता था. तारा के पति को जब यह बात पता चली तो उसने मोती लाल को कड़ी चेतावनी दी. इससे नाराज होकर आरोपी मोती लाल ने 23 सितंबर को तारा की गला काटकर हत्या कर दी.

मृतक महिला के दो बेटे और तीन बेटियां हैं. इन सभी की उम्र 14 साल से कम है. हत्या के दिन तारा की दो बेटियां उसके साथ थीं. वासना में अंधे मोती लाल यादव ने तारा के साथ यौन संबंध बनाने की इच्छा जाहिर की लेकिन उसने मना कर दिया. तब उसने तारा की उसकी बेटियों के सामने धारदार हथियार से गला काट डाला.

बताया जाता है कि वर्ष 2008 में इसी गांव की एक घास काट रही थी, मोती लाल यादव ने उसके साथ जबरदस्ती (रेप) करने का प्रयास किया. पीड़िता ने शोर मचाया तो खेत में काम कर रहे महिला के ससुर सुखदेव दास दौड़े हुए आए और उसे बचाया. इससे आगबबूला होकर आरोपी मोती लाल यादव ने सुखदेव दास का नाक काट लिया. इस मामले में साधू मोती लाल यादव को एक साल की कारावास हुई थी.

ग्रामीणों के साथ मिलकर पुलिस गिरफ्तारी के लिए बना रही रणनीति

तारा देवी की हत्या के बाद फरार चल रहे सिरफिरे साधू मोती लाल को गिरफ्तार करने के लिए दो-दो थानों की पुलिस टीम अभियान चला रही है. लेकिन वो पुलिस को चकमा देकर गांववालों के बीच खौफ पैदा कर रहा है. नौ लोगों की हत्या का अल्टीमेटम देने के बाद पुलिस ग्रामीणों के साथ उसकी गिरफ्तारी की रणनीति तैयार कर रही है.

बगहा के एसडीपीओ कैलाश प्रसाद ने बताया कि आरोपी मोती लाल यादव ने दियारा में शरण ले रखा है. वो कभी गन्ना के खेतों में, तो कभी नदी में कूद जा रहा है. पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास कर रही है. गांव में पुलिसबल को गश्त करते रहने का निर्देश दिया गया है.

यह भी पढ़ें

अलीगढ़: सोमवार से लापता 4 साल की मासूम बच्ची की हत्या‚ रेप की आशंका

मेरठ: किला परीक्षितगढ़ में स्कूल से लौट रही नाबालिग छात्रा से गैंगरेप, मुकदमा दर्ज

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: