Connect with us

Hi, what are you looking for?

क्राइम

Ajmer: सिपाही ने अपने नग्न वीडियो भेजकर छात्र से कहा मेरे रूम में आ जाओ. मैं कुंडी खोलकर रखता हूं

Porn whatsapp chatting and video call case: ब्यावर पुलिस उपाधीक्षक रहे हीरालाल सैनी के अश्लील वीडियो के बाद अब अजमेर जिले के ही पीसांगन पुलिस थाने के एक कांस्टेबल की भी अश्लील करतूत सामने आई है. कांस्टेबल पर आरोप है कि वह किशोर उम्र के छात्र के साथ अश्लील व्हाट्सऐप चैटिंग और वीडियो कॉल करता था.

खबर शेयर करें

अजमेर. राजस्थान पुलिस के डीएसपी हीरालाल सैनी (DSP Hiralal Saini) के महिला कांस्टेबल के साथ स्विमिंग पूल के वायरल हुये अश्लील वीडियो (Obscene Video) का मामला अभी ठंडा पड़ा भी नहीं कि अजमेर में एक और पुलिसकर्मी की अश्लील व्हाट्सऐप चैटिंग और वीडियो कॉल (Porn Video Calls) का खुलासा हुआ है.

आरोपी कांस्टेबल करीब आठ महीने से इलाके के किशोर उम्र के छात्र को डरा-धमकाकर उससे देर रात तक अश्लील चेटिंग करता था. इतना ही नहीं कांस्टेबल ने छात्र को वीडियो कॉलिंग के माध्यम से खुद के नग्न हालत के वीडियो भी शेयर किए. मामला सामने आते ही एसपी जगदीशचंद्र शर्मा ने पुलिसकर्मी को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया है.

आरोपी सिपाही

जानकारी के अनुसार आरोपी कांस्टेबल विक्रम सिंह अजमेर जिले के पीसांगन थाने में ड्राइवर के पद पर तैनात था. उसके खिलाफ पोक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज जांच नसीराबाद सदर पुलिस को सौंपी गई है. कांस्टेबल छात्र पर थाने में उसके कमरे में आने के लिए दबाव डाल रहा था. इतना ही नहीं एक दिन उसने रात करीब 10 बजकर 35 मिनट पर छात्र को मैसेज करके कहा कि मेरे कार्नर वाले रूम में आ जाओ. मैं कुंडी खोलकर रखता हूं.

आठ महीने से चल रहा था सिलसिला
इस मामले की जानकारी आठ महीने पहले दिसंबर में ही पीसांगन थाना पुलिस को छात्रों ने दे दी थी, लेकिन शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं की गई. कांस्टेबल की हरकतों से परेशान पीड़ित किशोर उम्र के छात्र ने फिर पीसांगन पंचायत समिति सदस्य प्रदीप कुमावत सहित अन्य लोगों को इस मामले से अवगत कराया. इस पर कुमावत ने सोमवार को पुलिस उपाधीक्षक अजमेर ग्रामीण आईपीएस सुमित मेहरड़ा से मुलाकात कर पूरे मामले की जानकारी दी.

22 दिसंबर 2020 को थाने में दी गई थी शिकायत
उन्होंने कांस्टेबल और छात्र के बीच हुई अश्लील व्हाट्सऐप चैटिंग और वीडियो कॉलिंग के स्क्रीन शॉट सीडी भी सौंपी है. प्रदीप कुमावत ने बताया कि 22 दिसंबर 2020 को इलाके के छात्रों ने पीसांगन थाने में लिखित शिकायत दी थी. उसमें कांस्टेबल की हरकतों के बारे में बताया गया था. छात्र ने बताया कि जब वह मार्निंग और इवनिंग वॉक पर जाता है तो कांस्टेबल उन्हें शारीरिक और मानसिक तौर पर परेशान करता है. झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर डराता-धमकाता है.

यह भी पढ़ें

हिला सिपाही के साथ स्विमिंग पूल में मस्ती कर रहे थे CO साहब‚ Video वायरल होने पर दोनों निलंबित

Agra: कमर में रिवॉल्वर लगाकर वीडियो बनाना महिला सिपाही को पड़ा भारी‚ SSP ने किया लाइन हाजिर

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: