Connect with us

Hi, what are you looking for?

बिजनेस

कैसे चेक करें पैन कार्ड से TDS काटा गया या नही है?, जानें पूरी प्रक्रिया

ऐसा होता है कि अगर आपकी आय इनकम टैक्स स्लैब में नहीं आती है तो आपको यह टीडीएस रिफंड मिल जाएगा। इसके लिए आपको आईटीआर देना होगा, जिससे आपका काटा हुआ पैसा वापस मिल जाएगा।

खबर शेयर करें

नई दिल्ली: जब आपको कहीं से कोई कमीशन, वेतन या कोई भुगतान मिलता है, तो उसमें से टैक्स का एक हिस्सा काट लिया जाता है और आपके पैन कार्ड खाते में जमा कर दिया जाता है, इस पैसे को टीडीएस कहा जाता है। जो आपकी इनकम के आधार पर तय होता है। लेकिन ऐसा होता है कि अगर आपकी आय इनकम टैक्स स्लैब में नहीं आती है तो आपको यह टीडीएस रिफंड मिल जाएगा। इसके लिए आपको आईटीआर देना होगा, जिससे आपका काटा हुआ पैसा वापस मिल जाएगा।

… तो आप इसे वापस ले सकते हैं
अगर आपको भी लगता है कि आपका टीडीएस काट लिया गया है और आप इसे वापस पाना चाहते हैं तो आप इसे वापस ले सकते हैं। जानिए ऐसे में आप कैसे पता लगा सकते हैं कि आपका टीडीएस काटा गया है या नहीं। आप यह पता लगा सकते हैं कि आपसे कितना टीडीएस काटा गया है, फिर आप इसे निकाल सकते हैं। जानें कि प्रक्रिया क्या है और टीडीएस के बारे में कैसे जानें।

टीडीएस कैसे पता करें?
सबसे पहले आप गूगल पर इनकम टैक्स फाइलिंग लिखकर सर्च कर सकते हैं या सीधे इनकम टैक्स की ऑफिशियल वेबसाइट www.incometax.gov.in पर जा सकते हैं।
उसके बाद आपको इस वेबसाइट पर लॉग इन करना होगा जिसके लिए आपको सबसे पहले रजिस्ट्रेशन करना होगा। यदि आपने पहले ही पंजीकरण कर लिया है, तो आपको लॉगिन करना होगा। इसमें आपको पैन कार्ड के आधार पर रजिस्ट्रेशन करना होता है और उसी के आधार पर आपको अपनी डिटेल भरनी होती है। विवरण भरने के बाद आप ईमेल और मोबाइल ओटीपी के माध्यम से इसमें पंजीकरण कर सकेंगे।


अनंत उसके बाद आपको अपने अकाउंट फॉर्म 26AS टैक्स क्रेडिट वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा। उसके बाद आपको View TaX का विकल्प मिलेगा और फिर आपको वर्ष और फ़ाइल प्रकार का चयन करना होगा।
अनंत आपको तब पता चलेगा कि आपसे कितना टीडीएस काटा गया है। इसके साथ ही आपको टीडीएस की विस्तृत जानकारी भी दिखाई देगी, जिसे आप पीडीएफ में भी डाउनलोड कर सकते हैं।


अगर आपकी कुल आय टैक्स स्लैब में नहीं आती है तो आप इसके लिए रिटर्न फाइल कर सकते हैं और आपको पैसा आपके खाते में वापस मिल जाएगा यानी आपका काटा हुआ पैसा आपके बैंक खाते में चला जाएगा।
अगर किसी व्यक्ति ने 2019-20 और 2020-21 के लिए आईटीआर दाखिल नहीं किया है तो उस पर टीडीएस की दर अधिक होगी। धारा 206CCA और धारा 206AB तभी लागू होगी जब दोनों वर्षों के लिए ITR दाखिल नहीं किया गया हो। अगर किसी एक साल के लिए आईटीआर फाइल किया जाता है तो यह नियम लागू नहीं होगा।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: