Connect with us

Hi, what are you looking for?

बिजनेस

शराब ठेका लेने को लेकर दो महिलाओं के बीच छिड़ी बहस, 72 लाख से 510 करोड़ पर पहुंची बोली, आबकारी विभाग भी हैरान

राजस्थान के हनुमानगढ़ से एक बेहद दिलचस्प मामला सामने आया है। यहां शराब का ठेका लेने के लिए सैकड़ों करोड़ रुपये सरेंडर किए गए। ठेकेदारी के लिए 72 लाख से शुरू हुई बोली 510 करोड़ पर समाप्त हुई। एक ही परिवार की दो महिलाओं के बीच आपसी युद्ध के कारण इतनी बड़ी बोली से पूरा आबकारी विभाग स्तब्ध रह गया।

जानकारी के मुताबिक, पिछले साल यह शराब की दुकान 65 लाख में बिकी थी। इस बार इसकी बोली 72 लाख से शुरू हुई। सुबह 11 बजे से चल रही बोली दोपहर 2 बजे समाप्त हुई। अधिकारी के अनुसार, इस दुकान के लिए एक ही परिवार की महिलाओं के बीच प्रतिस्पर्धा चल रही थी। आखिरकार किरण कंवर नाम की महिला ने 510 करोड़ की बोली लगाई और दुकान को अपने नाम कर लिया। प्रियंका कंवर ने भी बोली लगाई थी जो दूसरे स्थान पर रही।

510 करोड़ रुपये की बोली लगाने वाली महिला को दो दिनों के भीतर दुकान की कुल कीमत का दो प्रतिशत जमा करने को कहा गया है। वास्तव में नियमों के तहत बोली ठीक है, लेकिन ठेकेदार या दुकान संचालक के लिए इतनी बड़ी राशि का भुगतान करना संभव नहीं है। अगर ऐसा नही हो पाया तो आबकारी विभाग के अधिकारी किरण कंवर को ब्लैकलिस्ट कर देंगे। 

नियमानुसार लगी है बोली: आबकारी आयुक्त

आबकारी आयुक्त जोगाराम ने कहा कि बोली नियमानुसार है। इसकी 2% राशि को 3 दिनों के भीतर विभाग में जमा करना होगा। हम तीन दिनों तक प्रतीक्षा करेंगे, जिसके बाद बोली लगाने वाली फर्म या व्यक्ति को ब्लैकलिस्ट किया जाएगा। अगर ठेकेदार इतनी बड़ी रकम का भुगतान करता है, तो यह राज्य की सबसे महंगी दुकान बन जाएगी। अब यह बोली देश भर में चर्चा का विषय बनी हुई है।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement