बच्चे की अंतिम यात्रा में उमड़ा जन सैलाब

उत्तर प्रदेश: बागपत जनपद के खेकड़ा में 6 वर्षीय बच्चे शौर्य की हत्यारोपी कोर्ट में पेशी के दौरान पुलिस की पिस्टल छीनकर भाग निकले। हालांकि पुलिस ने दोनों आरोपियों को घेर लिया। इस दौरान पुलिस मुठभेड़ में दोनों के पैर में गोली लगी है। दोनो हत्यारोपियों को इलाज हेतु सीएचसी में भर्ती कराया गया है।वहीं सुबह पोस्टमार्टम के बाद जब शौर्य का शव घर पहुंचा तो कोहराम मच गया। गांव के ही श्मशान घाट पर मासूम के शव का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान ग्रामीणों की भारी भीड़ मौके पर मौजूद रही। 

मुठभेड़ में घायल मासूम के हत्यारोपी

आपको बता दें कि खेकड़ा क्षेत्र के गांव फखरपुर निवासी सोनवीर सिंह का 6 वर्षीय पुत्र शौर्य 15 दिसंबर की शाम ट्यूशन पढ़कर वापस घर लौटते समय लापता हो गया था। बालक की गला दबाकर हत्या की गई थी। जिसका शव मंगलवार की शाम एक गन्ने के खेत में मिट्टी में दबा हुआ मिला था। पुलिस ने मुख्य हत्यारोपी रिश्ते के चाचा विनीत और उसके दो साथियों नीरज उर्फ डैनी और अक्षित को हिरासत में ले लिया था।

मासूम शौर्य

पोस्टमार्टम के बाद बुधवार की सुबह शौर्य का शव गांव में पहुंचा। पुलिस बुधवार को आरोपी विनीत और नीरज को पेशी पर लेकर जा रही थी। इसी दौरान दोनों पुलिस वाहन से कूदकर खेतों में घुस गए। हालांकि पुलिस ने दोनों को घेर लिया। भागने के प्रयास के दौरान दोनों के पैर में गोली लगी है। पुलिस दोनों को अस्पताल में लेकर पहुंची है। 

उधर बुधवार सुबह पोस्टमार्टम के बाद बालक शौर्य का शव गांव मे पहुंचा तो परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया। गमगीन माहौल में परिजनों ने गांव के मोक्ष धाम में बालक के शव का अंतिम संस्कार कर दिया। इस दौरान ग्रामीणों की भारी भीड़ मौके पर मौजूद रही। 

Manoj Kumar