उत्तर प्रदेश: एटा जिले के मारहरा थाना क्षेत्र के एक गांव में एक हैवान ने हैवानियत की सभी हदें पार करते हुए डेढ़ वर्षीय मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने आ प्रयास किया। बच्ची की चीख सुनकर पहुंचे परिजनों ने मासूम को रोते देखा। इसी दौरान आरोपी वहां से भाग गया। बच्ची को इलाज हेतु अस्पताल में भर्ती किया गया है। जहां मेडिकल में वारदात की पुष्टि हुई है। डॉक्टरों की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर दो घंटे बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार, मारहरा थाना क्षेत्र में  मंगलवार की शाम एक डेढ़ वर्षीय बच्ची घेर में खेल रही थी। आरोप है कि 25 वर्षीय पड़ोसी युवक संजू वहां आया और उसको खिलाने के बहाने अपने कमरे में ले गया। जिसके बाद उसने यहां बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। बच्ची के चीखने पर घेर में काम कर रही मां व अन्य परिजन पहुंचे तो आरोपी बच्ची को गली में छोड़कर मौके से फरार हो गया।

परिजनो ने पुलिस को सूचना देते हुए बच्ची को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। जिसके पश्चात पुलिस ने आरोपी को घटना के लगभग दो घंटे बाद गांव मोतीपुर के पास से पकड़ लिया। थाना प्रभारी सतपाल सिंह ने बताया कि बच्ची के साथ गलत काम हुआ है। इसकी वजह से खून बह रहा था। जिसको मेडिकल कॉलेज भेजकर उपचार कराया जा रहा है। आरोपी मौके से भाग गया था, उसको गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी शराब पीने का आदी है। नामजद तहरीर मिल गई है। इसके आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Manoj Kumar