Connect with us

Hi, what are you looking for?

धर्म-समाज/राशिफल

जानिए क्या है ब्रह्म मुहूर्त, वैदिक या वैज्ञानिक?

Sunil Bendre

ब्रह्म का मतलब परम तत्व या परमात्मा। मुहूर्त यानी अनुकूल समय।

रात्रि का अंतिम प्रहर अर्थात प्रात: 4 से 5.30 बजे का समय ब्रह्म मुहूर्त कहा गया है।
रात्रि के अंतिम चरण को ब्रह्म मुहूर्त कहते हैं। हमारे ऋषि मुनियों ने इस मुहूर्त का बड़ा विशेष महत्व बताया है।इसके पीछे एक बड़ा विज्ञानिक कारण छिपा है। उनके अनुसार यह समय निद्रा त्याग के लिए सर्वोत्तम है। ब्रह्म मुहूर्त में उठने से सौंदर्य, बल, विद्या, बुद्धि और स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है। सूर्योदय से चार घड़ी (लगभग डेढ़ घण्टे) पूर्व ब्रह्म मुहूर्त में ही जग जाना चाहिये। इस समय सोना शास्त्र निषिद्ध है।
ब्रह्ममुहूर्ते या निद्रा सा पुण्यक्षयकारिणी”।
(ब्रह्ममुहूर्त की निद्रा पुण्य का नाश करने वाली होती है।)

सिख धर्म में इस समय के लिए बेहद सुन्दर नाम है– “अमृत वेला”, जिसका नाम साबित करता है। यह समय अमृत के समान है। ईश्वर की आराधना के लिए यह सर्वश्रेष्ठ और अति उत्तम समय है। ब्रह्म मुहूर्त में उठने से मनुष्य को सौंदर्य, लक्ष्मी, बुद्धि, स्वास्थ्य आदि की प्राप्ति होती है। उसका मन शांत और तन पवित्र होता है।


शास्त्रों में भी इसका उल्लेख है–

वर्णं कीर्तिं मतिं लक्ष्मीं स्वास्थ्यमायुश्च विदन्ति।
ब्राह्मे मुहूर्ते संजाग्रच्छि वा पंकज यथा॥
अर्थात- ब्रह्म मुहूर्त में उठने से व्यक्ति को सुंदरता, लक्ष्मी, बुद्धि, स्वास्थ्य, आयु आदि की प्राप्ति होती है। ऐसा करने से शरीर कमल की तरह सुंदर हो जाता हे।

ब्रह्म मुहूर्त में उठना हमारे जीवन के लिए बहुत लाभकारी है। इससे हमारा शरीर स्वस्थ होता है और दिनभर स्फूर्ति बनी रहती है। स्वस्थ रहने और सफल होने का यह ऐसा फार्मूला है जिसमें खर्च कुछ नहीं होता। केवल आलस्य छोड़ने की आवश्यकता होती है।
ब्रह्म मुहूर्त और प्रकृति :-

ब्रह्म मुहूर्त और प्रकृति का गहरा नाता है। इस समय में पशु-पक्षी जाग जाते हैं। उनका मधुर कलरव शुरू हो जाता है। कमल का फूल भी खिल उठता है। एक तरह से प्रकृति भी ब्रह्म मुहूर्त में चैतन्य हो जाती है। वातावरण पूर्ण रूप से शुद्ध और सुगंधित हो जाता है। प्रकृति हमें संदेश देती है ब्रह्म मुहूर्त में उठो पर अपने अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार करो।


आयुर्वेद के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त में उठकर टहलने से शरीर में संजीवनी शक्ति का संचार होता है। यही कारण है कि इस समय बहने वाली वायु को अमृततुल्य कहा गया है। इसके अलावा यह समय अध्ययन के लिए भी सर्वोत्तम बताया गया है क्योंकि रात को आराम करने के बाद सुबह जब हम उठते हैं तो शरीर तथा मस्तिष्क में भी स्फूर्ति व ताजगी बनी रहती है। प्रमुख मंदिरों के पट भी ब्रह्म मुहूर्त में खोल दिए जाते हैं तथा भगवान का श्रृंगार व पूजन भी ब्रह्म मुहूर्त में किए जाने का विधान है।

वेदों में भी ब्रह्म मुहूर्त में उठने का महत्व और उससे होने वाले लाभ का उल्लेख किया गया है।

प्रातारत्नं प्रातरिष्वा दधाति तं चिकित्वा प्रतिगृह्यनिधत्तो।
तेन प्रजां वर्धयमान आयू रायस्पोषेण सचेत सुवीर:॥ – ऋग्वेद-1/125/1*


अर्थात- सुबह सूर्य उदय होने से पहले उठने वाले व्यक्ति का स्वास्थ्य अच्छा रहता है। इसीलिए बुद्धिमान लोग इस समय को व्यर्थ नहीं गंवाते। सुबह जल्दी उठने वाला व्यक्ति स्वस्थ, सुखी, ताकतवाला और दीर्घायु होता है।
ब्रह्म मुहूर्त में उठने वाला व्यक्ति सफल, सुखी और समृद्ध होता है,क्योंकि जल्दी उठने से मस्तिष्क में ऊर्जा का संचार पूर्ण रहता है तथा दिनभर के कार्यों और योजनाओं को बनाने के लिए पर्याप्त समय भी मिल जाता हैं।


हमारे शास्त्रों वेदों पुराणों में जो भी वर्णन मिलता है वह आज की युग को चुनौती दे रहा है हमारे भारतवर्ष का वैदिक ज्ञान पूर्ण रूप से अग्रिम विज्ञान पर टिका है जहां तक पहुंचने में अभी देश विदेशों को शायद अभी हजारों साल लग जाए वह विज्ञान हमारे ऋषि-मुनियों ने लाखो हजारों वर्ष पहले लिख दिए थे। जिसका जीता जागता प्रमाण हमारे देश के ग्रंथ वेद पुराण में मौजूद है।


दैनिक जीवन में सबसे बड़ा प्रमाण है जैविक घड़ी पर आधारित शरीर की दिनचर्या :–

प्रातः 3 से 5 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से फेफड़ों में होती है। थोड़ा गुनगुना पानी पीकर खुली हवा में घूमना एवं प्राणायाम करना। इस समय दीर्घ श्वसन करने से फेफड़ों की कार्यक्षमता खूब विकसित होती है।शरीर स्वस्थ व स्फूर्तिमान होता है। ब्रह्म मुहूर्त में उठने वाले लोग बुद्धिमान व उत्साही होते है।

प्रातः 5 से 7 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से आंत में होती है। प्रातः जागरण से लेकर सुबह 7 बजे के बीच मल-त्याग एवं स्नान का लेना चाहिए । अन्यथा सुबह 7 के बाद जो मल-त्याग करते है तो इससे कब्ज तथा कई अन्य रोग उत्पन्न होते हैं।

प्रातः 7 से 9 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से आमाशय में होती है। यह समय भोजन के लिए उपर्युक्त है । इस समय पाचक रस अधिक बनते हैं। भोजन के बीच-बीच में गुनगुना पानी घूँट-घूँट पिये।

प्रातः 11 से 1 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से हृदय में होती है।

दोपहर 12 बजे के आस–पास मध्याह्न –
संध्या (आराम) करने की हमारी संस्कृति में विधान है। इसी लिए भोजन वर्जित है । इस समय तरल पदार्थ ले सकते है। जैसे मट्ठा पी सकते है। दही खा सकते है ।

दोपहर 1 से 3 —
इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से छोटी आंत में होती है। इसका कार्य आहार से मिले पोषक तत्त्वों का अवशोषण व व्यर्थ पदार्थों को बड़ी आँत की ओर धकेलना है। भोजन के बाद प्यास अनुरूप पानी पीना चाहिए । इस समय भोजन करने अथवा सोने से पोषक आहार-रस के शोषण में अवरोध उत्पन्न होता है व शरीर रोगी तथा दुर्बल हो जाता है ।

दोपहर 3 से 5 — इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से मूत्राशय में होती है । 2-4 घंटे पहले पिये पानी से इस समय मूत्र-त्याग की प्रवृति होती है।

शाम 5 से 7 — इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से गुर्दे में होती है । इस समय हल्का भोजन कर लेना चाहिए । शाम को सूर्यास्त से 40 मिनट पहले भोजन कर लेना उत्तम होता है।

रात्री 7 से 9 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से मस्तिष्क में होती है । इस समय मस्तिष्क विशेष रूप से सक्रिय रहता है । अतः प्रातःकाल के अलावा इस काल में पढ़ा हुआ पाठ जल्दी याद रह जाता है । आधुनिक अन्वेषण से भी इसकी पुष्टी हुई है।

रात्री 9 से 11 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से रीढ़ की हड्डी में स्थित मेरुरज्जु में होती है। इस समय पीठ के बल या बायीं करवट लेकर विश्राम करने से मेरूरज्जु को प्राप्त शक्ति को ग्रहण करने में मदद मिलती है। इस समय की नींद सर्वाधिक विश्रांति प्रदान करती है । इस समय का जागरण शरीर व बुद्धि को थका देता है।इस समय भोजन करना भी खतरनाक होता है।

रात्री 11 से 1 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से पित्ताशय में होती है । इस समय का जागरण पित्त-विकार, अनिद्रा , नेत्ररोग उत्पन्न करता है व बुढ़ापा जल्दी लाता है । इस समय नई कोशिकाएं बनती है।

रात्री 1 से 3 इस समय जीवनी-शक्ति विशेष रूप से यकृत में होती है । अन्न का सूक्ष्म पाचन करना यह यकृत का कार्य है। इस समय का जागरण यकृत (लीवर) व पाचन-तंत्र को बिगाड़ देता है । इस समय यदि जागते रहे तो शरीर नींद के वशीभूत होने लगता है, दृष्टि मंद होती है और शरीर की प्रतिक्रियाएं मंद होती हैं। अतः इस समय सड़क दुर्घटनाएँ अधिक होती हैं।

ऋषियों व आयुर्वेदाचार्यों ने बिना भूख लगे भोजन करना वर्जित बताया है। अतः प्रातः एवं शाम के भोजन की मात्रा ऐसी रखे, जिससे ऊपर बताए भोजन के समय में खुलकर भूख लगे। जमीन पर कुछ बिछाकर सुखासन में बैठकर ही भोजन करें। इस आसन में मूलाधार चक्र सक्रिय होने से जठराग्नि प्रदीप्त रहती है। कुर्सी पर बैठकर भोजन करने में पाचनशक्ति कमजोर तथा खड़े होकर भोजन करने से तो बिल्कुल नहींवत् हो जाती है।

पृथ्वी के चुम्बकीय क्षेत्र का लाभ लेने हेतु सिर पूर्व या दक्षिण दिशा में करके ही सोयें, अन्यथा अनिद्रा जैसी तकलीफें होती हैं।

शरीर की जैविक घड़ी को ठीक ढंग से चलाने हेतु रात्रि को बत्ती बंद करके सोयें। इस संदर्भ में हुए शोध चौंकाने वाले हैं। देर रात तक कार्य या अध्ययन करने से और बत्ती चालू रख के सोने से जैविक घड़ी निष्क्रिय होकर भयंकर स्वास्थ्य-संबंधी हानियाँ होती हैं। अँधेरे में सोने से यह जैविक घड़ी ठीक ढंग से चलती है।

आजकल पाये जाने वाले अधिकांश रोगों का कारण अस्त-व्यस्त दिनचर्या व विपरीत आहार- विहार ही है। हम अपनी दिनचर्या शरीर की जैविक घड़ी के अनुरूप बनाये रखें।
और हमेशा मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रहे।।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement

Update news...

देश-दुनिया

latest News in hindi :- कोटा। राजस्थान (rajasthan) में इन दिनों एक वीडियो सोशल मीडिया (social media) पर वायरल (Viral) हो रहा है। एक...

मनोरंजन

अगर हम बॉलीवुड एक्ट्रेस सनी लियॉन sunny leone की बात करे तो इसमें कोई शक नहीं कि वह बॉलीवुड की खूबसूरत और बोल्ड एक्ट्रेस...

क्राइम

मनोज कुमार चोरों और बदमाशों को सबक सिखाने का दावा करने वाली उत्तर प्रदेश पुलिस को एक बार फिर शर्मसार होना पड़ा है, जहां...

बड़ी खबर

मनोज कुमार मेरठ के किठौर थाना क्षेत्र के छुछाई निवासी एक सीआरपीएफ जवान सोमपाल 38 वर्ष की झारखंड में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो...

रोचक जानकारी

आमतौर पर सभी बड़े होटल्स में व्यक्ति की रोजमर्रा के जीवन में इस्तेमाल होने वाली सभी चीजें उपलब्ध होती है। यानि साबुन sabun से...

रोचक जानकारी

आपने अक्सर देखा होगा कि जब आप किसी वाहन पर जाते है, जैसे कि कार, स्कूटर या बाइक पर जाते है, तो गली के...

बिजनेस

प्रताप कुमार आँखों देखी लाइव : हमारे भारत देश का भले ही आधुनिक समय में काफी विकास हो रहा हो, लेकिन फिर भी इस...

Health/Lifestyle

बता दे कि सामुद्रिक शास्त्रों में शरीर के विभिन्न अंगों के रंग और आकार को देख कर व्यक्ति के भविष्य और स्वभाव का अनुमान...

Health/Lifestyle

आपने अक्सर देखा होगा कि जब भी मर्द आपस में इक्क्ठे होते है तो वे महिलाओं के बारे में जरूर बातें करते है। उनके...

बड़ी खबर

मनोज कुमार किठौर थाना क्षेत्र के छुछाई निवासी CRPF के जवान को संदिग्ध अवस्था में गोली लगने से हुई मौत के मामले में म्रतक...

क्राइम

पुलिस को अबतक ऐसे 17 यूट्यूब चैनल के बारे में जानकारी मिली है जिसपर इनलोगों ने 300 से ज्यादा वीडियोस अपलोड किए हैं. पुलिस...

मनोरंजन

Latest Viral Video News:- कुछ मजेदार और चैंकाने वाली वीडियो (Video) सोशल मीडिया (social media) पर आज कल बहुत वायरल हो रहे हैं। कुछ...

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश: हिन्दुओं के प्रसिद्ध तीर्थस्थान प्रयागराज (Prayagraj) में लगे माघ मेले में आपको तरह-तरह के साधु-संत sadhu sant मिल जाएंगे। हर साधु रूप-रंग...

मोबाइल-टेक

प्रताप कुमार, सवांददाता – आँखों देखी लाइव: आजकल लगभग हर घर में सेटअप बॉक्स settopbox लगा हुआ है। लेकिन आपने एक बात जरूर नोट...

मनोरंजन

आज के दिन कौन भी नहीं चाहता कि वह भी एक फिल्म स्टार बने या कोई महान हस्ती बने. कोई बॉलीवुड में कदम जमाने...

उत्तर प्रदेश

नीरज गोला उत्तर प्रदेश के मेरठ (Meerut) में पुलिस जिप्सी और रोडवेज बस की आमने-सामने टक्कर हो गई, जिसमें में तीन पुलिसकर्मी (Police man)...

राज्य/ states

Hariyana Latest News in Hindi:- हरियाणा के गुरुग्राम (Gurugram) में साइबर सिटी (Cyber city) गुरुग्राम के पॉश इलाके के सेक्टर-5 थाना क्षेत्र के गांव...

क्राइम

गुफरान चौधरी गढ़मुक्तेश्वर थाना क्षेत्र के मानकचौक में एक रिश्तों को कलंकित करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। गांव में एक सगे बड़े...

Accident/ हादसा

कानपुर: क्या आपने कभी सुना है कि अंडरवियर underwear की चोरी पर किसी की हत्या कर दी गई? ये सच है, एक चोरी हुआ अंडरवियर...

उत्तर प्रदेश

UP Police Latest News:- सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश पुलिस (UP Police) द्वारा गुरुवार को मास्क (Mask) चेकिंग अभियान का संदेश वायरल (Viral) हुआ।...

बड़ी खबर

मनोज कुमार / गुफरान चौधरी मेरठ: किठौर थाना क्षेत्र के गांव छुछाई निवासी CRPF जवान सोमपाल को शहीद का दर्जा दिलाने व परिवार को...

Health/Lifestyle

प्यार एक एक ऐसा एहसास है जो दिलों को एक दुसरे के लिए हमेशा जोड़े रखता है. प्यार की ताकत pyar ki takat से...

Health/Lifestyle

मोमोज सेहत के लिए बहुत अच्छे नहीं होते हैं. बल्कि इनका ज्यादा सेवन तो आपके स्वास्थ्य को नुकसान भी पहुंचा सकता है. मोमोज आज...

क्राइम

मनोज कुमार हापुड़ के पिलखुवा के पास 24 फरवरी की देर रात एक ऑटो में 30 वर्षीय महिला के साथ सामूहिक बलात्कार करहापुड़ने और...

क्राइम

अजयपाल सिंह मेरठ: मुंडाली थाना पुलिस ने मऊखास में समयपुर रोड पर फर्जी मार्कशीट बनाने की सूचना पर छापा मारते हुए दो आरोपियों को...

दिल्ली

Leatest Corona Update News in Hindi:- नई दिल्ली (New Delhi) कोरोना वायरस (Corona virus) को लेकर सरकार सतर्क मोड में आ गई है। शुक्रवार...

उत्तर प्रदेश

UP Latest News in Hindi:- यूपी: 812 सहायक शिक्षकों को हाइकोर्ट (HC) से बड़ा झटका मिला है। फर्जी डिग्री पर नौकरी (Job) करने वालों...

Accident/ हादसा

Accident Latest News:- उत्तर प्रदेश के हरदोई (Hardoi) में बिलग्राम कन्नौज मार्ग पर भीषण सड़क हादसा (Horrific Road Accident) हो गया। आपको बता दे...

धर्म-समाज/राशिफल

मेष- आज के दिन आप जितना अधिक से अधिक लोगों से संपर्क बनाएंगे उतना ही आपके लिए फायदेमंद होगा, न केवल आजीविका बल्कि सामाजिक तौर...

क्राइम

आजमगढ़ जिले में बिजली विभाग के एसडीओ के कार्यालय को बीयर बार बना दिया गया है. जिसकी एक तस्वीर काफी तेजी से वायरल हो...

%d bloggers like this: